Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana: लाभ, उद्देश्य, पात्रता और जानिए कैसे करें अप्लाई ?

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana, जिसे 2017 में महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को प्रोत्साहित करने के लिए शुरू किया गया था। उसका उद्देश्य गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य और पोषण में सुधार करना और मातृत्व मृत्यु दर को कम करना है।

इस योजना के चलते, गर्भवती महिलाओं को उनका सवस्था बनाये रखने के लिए कुछ धन-राशि प्रदान की जाती है। जिससे स्तनपान कराने वाली महिलाएं सवस्थ रहेंगी, और मातृत्व मृत्यु दर में कमी होगी। आइये इस योजना के बारे में और विस्तार से जाने।  

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Kya hai ?

भारत सरकार द्वारा चलायी जा रही Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana (पीएमएमवीवाई), एक गर्भवति लाभ योजना है। पहले इसको 2010 में इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना के नाम से शुरू किया गया था, लेकिन 2017 में इसका नाम बदल दिया गया। केंद्र सरकार ने गर्भवती और बच्चों के स्वास्थ्य और पोषण को बेहतर बनाने के लिए  शुरू की गयी प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का विस्तार किया है। इस योजना के चलते, सरकार द्वारा पहले बच्चे के जन्म पर 5,000 रुपए की धन राशि प्रदान किया जाता है।

लेकिन अब एक और खुशी की बात सामने आयी है कि दूसरी संतान, खासकर बेटी होने पर, सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत 6,000 रुपए की राशि प्रोत्साहन के रूप में दी जाएगी। इस योजना से दूसरी संतान बेटी होने पर भी लाभ मिलेगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर संदीप चौधरी ने बताया है कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन और मिशन शक्ति के अंतर्गत योजना को समर्थन करने का निर्णय लिया गया है। इस योजना को अब पीएमएमवीवाई वर्जन 2.0 कहा जाएगा। इस योजना का लाभ पाने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा, और शिशु के जन्म से 270 दिन के अंदर पंजीकरण कराया जा सकता है।

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana  का उद्देश्य

  • 2023 की Pregnancy Support Scheme के तहत, आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग की गर्भवती स्त्रियों को 6000 रूपये की आर्थिक मदद प्रदान करना। 
  • इसके साथ ही, उन्हें सही सुविधाएं भी प्रदान कराना जैसे कि स्वास्थ्य सेवाएं और अच्छा आहार। 
  • इसके अलावा, यह योजना गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को और उनके बच्चों को कुपोषण से बचाने और मृत्यु दर को कम करने का भी मकसद रखती है।

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana का  लाभ और विशेषताएं

  • इस योजना के माध्यम से, गर्भवती महिलाएं अपनी सभी आवश्यकताओं को पूरा कर सकेंगी और बच्चे को जन्म देने के बाद उसकी ठीक से देखभाल कर सकेंगी। 
  • Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana के तहत, बच्चो के मृत्यु दर में भी कमी आ सकती है। 
  • प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2023 के अंतर्गत, मिलने वाले 6000 रुपये का दान सीधे गर्भवती महिलाओं के बैंक खाते में होगा। 
  • इस योजना का लाभ सरकारी नौकरी करने वाली महिलाएं भी उठा सकती हैं।
  • योजना के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए, सरकार ने विभिन्न माध्यमों का उपयोग किया है, जैसे कि टीवी, रेडियो, समाचार पत्र और सोशल मीडिया।
  • योजना को लागू करने के लिए, सरकार ने राज्य सरकारों और स्थानीय निकायों के साथ मिलकर काम किया है।
  • योजना के लाभों को सुनिश्चित करने के लिए, सरकार ने कठोर मानदंडों को लागू किया है।

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana के लिए पात्रता

  • महिला का भारतीय नागरिक होना जरुरी है।
  • जो भी गर्भावस्था या दूध पिलाने वाली महिला है, और उनका पहला बच्चा 1 जनवरी 2017 या उसके बाद पैदा हुआ होना चाहिए।
  • कोई भी गर्भावस्था या दूध पिलाने वाली महिला को इस योजना का फ़ायदा उठा सकता है, भले ही वह किसी व्यापार या सरकारी उद्योग में काम नहीं करती है। 

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana  के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • राशन कार्ड
  • नवजात शिशु का जन्म प्रमाण पत्र
  • माता-पिता का आधार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • माता-पिता का पहचान पत्र

IMPORTANT LINKS

Official WebsiteClick here
RegistrationClick here
Download Forms 1 and 2Form 1 Form 2

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Registraion कैसे करें?

  • सबसे पहले, आपको Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां पहुंचने पर आपको होम पेज दिखेगा।
  • अब उसके होम पेज पर आपको “बेनिफिशियरी लॉगइन” का बटन दिखाई देगा, उसपर क्लिक करिए।
  • इसके बाद, “For Registering New User Click Here” के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब, एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको लाभार्थी का नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, पासवर्ड, कैप्चा कोड जैसी सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद, “Register” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब यह सब होने के बाद, आपको सभी आवश्यक दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • इसके बाद, “Submit” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार, आपका पंजीकरण पूरी तरह से successfull हो जायेगा।

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

अगर आप इस Matritva Vandana Yojana का लाभ उठाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते है, जो की कुछ इस प्रकार है :

  • सबसे पहले, योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं। वहां पहुंचने पर आपको होम पेज दिखेगा। इस पेज पर एक लॉगिन फॉर्म होगा।
  • आपको इस फॉर्म में अपनी ईमेल आईडी, पासवर्ड, कैप्चा कोड, जैसे चीजों को भरना होगा। सब जानकारी भरने के बाद, लॉगिन क्लिक करें।
  • लॉगिन करने के बाद, आप प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। 
  • अब आपको आवेदन फॉर्म में सभी जानकारी भरनी होगी। 
  • सभी जानकारी देने के बाद, सबमिट बटन पर क्लिक करें।

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana offline आवेदन कैसे करे ?

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana का लाभ उठाने के लिए आप ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। 

  • गर्भवती महिलाओं को इस योजना के आवेदन के लिए तीन फॉर्म (पहला, दूसरा, और तीसरा फॉर्म) भरने होंगे।
  • सबसे पहले, गर्भवती महिलाएं आंगनवाड़ी और स्वास्थ्य केंद्र में जाकर पहला फॉर्म लेकर उसमें पूछी गई सभी जानकारी भरकर जमा करें। 
  • इसके बाद, दिए गए अंतराल पर दूसरा और तीसरा फॉर्म भरकर उन्हें वही जगह जमा करें।
  • तीनों फॉर्म भरने के बाद, आपको आंगनवाड़ी और स्वास्थ्य केंद्र से एक स्लिप मिलेगी। गर्भवती सहायता योजना  का आवेदन फॉर्म आप, महिला और बाल विकास मंत्रालय की ऑफिसियल वेबसाइट http://wcd.nic.in/ से डाउनलोड कर सकते हैं। इस प्रकार, आपका ऑफलाइन आवेदन पूरा हो जाएगा।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना फॉर्म कैसे डाउनलोड करें ?

  • सबसे पहले, आपको Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां पहुंचने पर आपके सामने होम पेज दिखेगा।
  • होम पेज पे जाते ही आपको “Download PMMVY Form” का ऑप्शन दिखाई देगा उसी पर क्लिक करिये।
  • इसके बाद, आपके सामने दो ऑप्शन आएंगे जो कुछ इस प्रकार हो सकते हैं: Form 1A और Form 1B
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे, आपके सामने फॉर्म PDF फॉर्मैट में खुलकर आ जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

FAQs

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana (PMMVY) क्या है?

PMMVY एक मातृ लाभ योजना है जो की भारत सरकार द्वारा चलाई जाती है। इसके अंतर्गत, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान करा रही माताओं को पहले जन्म के लिए ₹ 5000/- की रकम प्रोत्साहन के रूप में दी जाती है, जो मातृ देखभाल की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए दिया जाता है।

PMMVY के लिए पात्रता शर्तें क्या हैं?

सभी 19 वर्ष या उससे अधिक आयु की गर्भवती महिलाएं इस योजना के लिए पात्र हैं, सिवाए उनकी जो केंद्र सरकार, राज्य सरकार या सार्वजनिक क्षेत्र की नियोक्ता हैं, या जो किसी अन्य कानून के तहत इसी तरह के लाभ प्राप्त कर रही हैं।

PMMVY के लाभ प्राप्त करने के लिए कौन-कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं?

इसमें मातृ और शिशु सुरक्षा (MCP) कार्ड की कॉपी, आवेदक के बैंक/डाकघर खाता पासबुक की कॉपी, और आवेदक के आधार कार्ड या किसी अन्य सर्कार द्वारा जारी की गयी फोटो आईडी की कॉपी शामिल हैं।

PMMVY के लाभ कितनी किस्तों में और कब दिए जाते हैं?

इस योजना के चलते लाभ तीन किस्तों में दिया जाता है: गर्भावस्था के पहले महीने की चेकउप के बाद, गर्भावस्था के छह महीने बाद, और बच्चे के जन्म, टीकाकरण और चेकअप की शर्तें पूरी करने के बाद।

लाभार्थी योजना के लिए कैसे आवेदन कर सकती है?

लाभार्थी योजना के लिए आवेदन करने के लिए, वह स्वीकृत स्वास्थ्य केंद्रों में अपनी गर्भावस्था का चेकअप करा सकती हैं, जो उनकी आखिरी मासिक धर्म से 150 दिन के भीतर होना चाहिए।

यदि लाभार्थी योजना की पात्रता शर्तों को पूरा करती है, लेकिन PMMVY के लिए देर से आवेदन किया है, तो क्या होगा?

अगर लाभार्थी योजना की पात्रता शर्तें पूरी करती है, तो वह फिर भी योजना के लाभ प्राप्त कर सकती है, भले ही उसने देर से आवेदन किया हो।

Leave a Comment